एक तरफ पिछले डेढ़ साल से कोरोना वायरस (Coronavirus) का खतरा थमने का नाम नहीं ले रहा है वहीं इसी बीच एक और नई बीमारी मनुष्य को जकड़ने के लिए तैयार हो गई है। जी हां ! अमेरिकी वैज्ञानिकों की माने तो यूएसए (USA) में कोरोना के बाद एक और बीमारी का प्रकोप बढ़ने लगा है।


अमेरिकी वैज्ञानिकों और शोधकर्ताओं अनुसार अब दिमाग को खाने वाला जानलेवा अमीबा (Brain Eating Amoeba) नेग्लरिया फाउलेरी (Naegleria fowleri) फैल रहा है। यह अमीबा इंसान के दिमाग की नसों और टिशुस को धीरे धीरे खा कर नुक़सान पहुंचाता है। इतना ही नहीं ये जलवायु परिवर्तन के कारण दक्षिणी हिस्से से पूर्वी हिस्से की ओर बढ़ रहा है। अब तक अमेरिका के कई इलाकों को घेर चुका ये अमीबा धीरे-धीरे अपनी पकड़ तेज करता नजर आ रहा है।


अंसेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के अनुसार ये बीमारी से संक्रमित होने वाले लोगों को बचा पाना बेहद ही मुश्किल है। 90% से अधिक लोग इस बीमारी की चपेट में आने से मौत का शिकार बनते है। ऐसे में इन डराने वाले आंकड़ों ने वैज्ञानिकों की चिंता बढ़ा दी है।


ये लोग बनते है शिकार!
अगर अमेरिकी साइंटिस्ट की माने तो यह जहरीला अमीबा संक्रमण से दूषित पानी के संपर्क में आने वाले लोगों को अपना शिकार बनाता है। यह अमीबा नासिका के जरिए दिमाग तक पहुंचकर नर्वस सिस्टम को प्रभावित करता है। अमीबा के संपर्क में आने वाले ज्यादातर स्विमिंग, समुन्द्र तट, बीच आदि पर जाने वाले लोग है। ये जहरीला अमीबा दूषित पानी में ही अपना सफ़र तय करता है। ऐसे में अब कोरोना के बाद इस अमीबा ने लोगों की नींद उड़ा दी है।

गौरतलब है कि दूसरी और कोरोना वायरस का कहर एक समय में थमता नजर आ रहा था परंतु सितंबर के बाद से दोबारा उठी लहर ने एक बार फिर से डरा कर रख दिया है। कम होते मामलों के बीच फिर से संक्रमित केस (positive case) अपनी रफ्तार पकड़ते नजर आ रहे हैं जो चिंता का विषय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *